Delhi Metro: किसान आंदोलन का हुआ ऐसा असर की दिल्ली मेट्रो का टूट पड़े पैसेंजर

एमएसपी की गारंटी को लेकर आंदोलन कर रहे किसानों को दिल्ली एनसीआर की सड़कों पर बल्कि दिल्ली मेट्रो पर भी देखने को मिल रहा है पिछले दो दिनों में किसान आंदोलन की असर के चलते लोग मेट्रो ट्रेनों में सफ़र को सुरक्षित महसूस कर रहे हैं

Delhi Metro: किसान आंदोलन का हुआ ऐसा असर की दिल्ली मेट्रो का टूट पड़े पैसेंजर


13 फरवरी को दिल्ली मेट्रो में पिछले कई रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं दिल्ली में मेट्रो में सबसे ज्यादा यात्री की सफर करने का आंकड़ा दर्ज किया गया है 13 फरवरी 2024 को दिल्ली मेट्रो नेटवर्क में 71.09 लाख लोगों ने यात्रा की है पिछले रिकार्ड को तोड़ते हुए यह यात्रियों की सबसे ज्यादा संख्या को बता रहा है इससे साफ बताया चलता है कि किसान आंदोलन की वजह से रूट डायवर्जन या सड़कों पर लगने वाले जाम से बचने के लिए लोगों ने यात्रा के लिए मेट्रो को चुना


आपको यह भी बता दे की 13 फरवरी को 71.9 लाख लोगों ने दिल्ली मेट्रो ट्रेनों में सफर किया है सबसे ज्यादा लोगों ने येलो लाइन पर सफर किया है जो दिल्ली को गुड़गांव हरियाणा से जुड़ती है मतलब कि इससे एक दिन पहले 12 फरवरी को भी 70 पॉइंट 87 लाख लोगों ने सफर किया था ऐसे में किसान आंदोलन अगर और लंबा चलता है तो आने वाले दिनों में मेट्रो भीड़ भी बढ़ सकती है 

किस लाइन पर कितने यात्रियों ने किया था सफर


रेड लाइन पर 757629 लोगों ने क्या सफर येलो लाइन पर 19 लाख 34568 लोगों ने किया ब्लू लाइन 19 लाख 14521 लोगों ने किया ग्रीन लाइन  35350 लोगों ने किया सफर पिंक लाइन में 686181 लोगों ने किया मैजेंटा लाइन 580000662 लोगों ने किया ग्रे लाइन 38975 ने किया रैपिड मेट्रो 51901 लोगों ने किया सहर एयरपोर्ट लाइन 59212 लोगों ने केस नंबर


जानते हैं क्या था पिछला रिकॉर्ड

पिछले साल 28 अगस्त 2023 को सबसे ज्यादा 68 पॉइंट 16 लाख यात्रियों ने दिल्ली मेट्रो में सफर किया था और मेट्रो ने रिकॉर्ड कायम किया था इसके बाद इस साल 4 सितंबर 2023 को भी यह रिकॉर्ड को तोड़ते हुए जी हां तोड़ते हुए मेट्रो में 3171.04 लाख लोगों ने सफर किया दिल्ली मेट्रो ने यात्रियों को इस भरोसे पर धन्यवाद किया

Post a Comment

Previous Post Next Post